Best 4 हर घर तिरंगा अभियान पर निबंध-Har Ghar Tiranga Abhiyaan Essay 2022

प्राचीन समय से ही भारत में हर काल मे एक झण्डा हुआ करता था । प्राचीन भारत मे जब हिन्दू शासको की बहुलता थी तब ध्वज के रूप मे भगवे को अधिक महत्व दिया गया था| लेकिन देश की आजादी के बाद से ही देश राष्ट्रीय ध्वज के रूप में तिरंगा की घोषणा की गई|

आजादी के 75 वर्ष पुरे होने के उपलक्ष में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस बार इसे आजादी का अमृत महोत्सव के रूप में मनाने की घोषणा की हैं, जिसमे हर घर तिरंगा कार्यक्रम भी सम्मिलित हैं| इस अभियान के तहत देशभर में 25 करोड़ लोगो को इससे जोड़ने का लक्ष्य रखा गया हैं|

हर घर तिरंगा अभियान निबंध – Har Ghar Tiranga Essay

Har Ghar Tiranga Essay-हर घर तिरंगा निबंध
Har Ghar Tiranga Essay-हर घर तिरंगा निबंध

Har Ghar Tiranga Abhiyaan Essay – 100 Word 

राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे को हमारे देश के गौरव का प्रतीक माना गया है| पिछले 75 सालों तिरंगे को केवल राष्ट्रीय कार्यक्रमों जैसे स्वतंत्रता दिवस, गणतंत्र दिवस, महात्मा गांधी जयंती तथा कुछ अन्य औपचारिक समारोह तक ही सीमित रखा गया था।

लेकिन इस बार अमृत महोत्सव कार्यक्रम के तहत हर एक भारतीय नागरिक को तिरंगे से जोड़ा जा रहा है, ताकि देश का हर एक नागरिक अपने घर में तिरंगा फहराए|

इस अभियान के माध्यम से तिरंगे के महत्व को लोगो तक पहुँचाया जायेगा और साथ ही इसके माध्यम से देशवासियों की अपने देश के प्रति देशभक्ति की भावना जागृत होगी और लोग देश के राष्ट्रध्वज को लेकर और अधिक जागरूक होंगे।

Essay On Har Ghar Tiranga Abhiyaan – 200 Word

विश्व के हर देश के लिए अपने देश का राष्ट्रध्वज बहुत ही महत्वपूर्ण और सम्माननीय होता है। देश का झंडा अपने देश की आन बान और शान का प्रतीक माना जाता है। यही कारण है भारत के लोग भी अपने देश के तिरंगे का बहुत सम्मान और आदर करते हैं।

तिरंगा हम देशवासियों को गर्व और साहस की अनुभूति कराता है। भारत के प्रत्येक नागरिक ने अपने जीवन में कभी न कभी तिरंगा अवश्य फहराया होगा फिर चाहे वो 15 अगस्त हो, 26 जनवरी या 2 अक्टूबर अक्सर इन सभी महत्वपूर्ण मौकों पर देश में तिरंगा फहराने की परम्परा बहुत पहले से चली आ रही है।

लेकिन इस वर्ष हमारे देश भारत में आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष में भारत सरकार द्वारा अमृत महोत्सव का आयोजन किया जा रहा हैं जिसके तहत इस वर्ष 15 अगस्त 2022 से हर घर तिरंगा अभियान चलाया जा रहा है|

इस अभियान के माध्यम से देश के सभी नागरिकों को 13 से 15 अगस्त के बीच अपने-अपने घरों में राष्ट्रीय तिरंगे को फहराने का आह्वान किया गया है। इस अभियान के माध्यम से देशवासियों को तिरंगे के महत्व के बारे में जागरूक किया जाएगा।

Essay On Har Ghar Tiranga Abhiyaan In Hindi – 300 Word

भारत का राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा का भारतवासियों के लिए बहुत महत्व है। राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा शांति, प्रेम और एकता का प्रतीक है। भारत की आजादी में कई स्वतंत्रता सेनानियों ने अपनी जान गंवाई, यह ध्वज उनके अमूल्य बलिदान का प्रतिनिधित्व करता है।

वर्तमान समय में तिरंगे का मूल रूप जिसमे केसरिया, सफेद और हरे रंग की तीन समान पट्टियां हैं, वह 22 जुलाई 1947 को संविधान सभा द्वारा अपनाया गया था। इस ध्वज की डिजाइन पिंगली वेंकय्या द्वारा की गई थी|

भारत का राष्ट्रीय ध्वज “तिरंगा” एक स्वतंत्र गणराज्य के रूप में भारत का प्रतिनिधित्व करता है।भारत में आयोजित होने वाला आजादी का अमृत महोत्सव कई कार्यक्रमों का आयोजन करता है। जिसमे से एक अभियान “हर घर तिरंगा” हैं।

इस अभियान को 22 जुलाई 2022, शुक्रवार को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुरू किया है, जिसे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह अनुमोदित किया गया है क्योंकि वह आजादी का अमृत महोत्सव के तहत सभी गतिविधियों की देखरेख करते हैं।

प्रधानमंत्री ने इस अभियान की घोषणा करते हुए भारत के लोगों से इसे एक बड़ी सफलता बनाने का आह्वान किया हैं|इस अभियान के तहत सभी भारतीयों से 13 से 15 अगस्त 2022 तक अपने-अपने घरो में राष्ट्रीय ध्वज (तिरंगा) फहराने का अनुरोध किया गया हैं।

इस अभियान के तहत पुरे भारतवर्ष में कई कार्यक्रम और प्रतियोगिताएं भी आयोजित की जा रही हैं, जिसमे लोग वर्चुअल रूप से भी इस अभियान में जुड़कर हिस्सा ले सकते हैं। इस अभियान की सम्पूर्ण जानकारी के लिए एक विशेष वेबसाइट की भी शुरूआत की गई है।

इस अभियान का सबसे मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय ध्वज के साथ लोगो के सबंध को और अधिक गहरा करना है। पहले झंडे का इस्तेमाल केवल किसी विशेष अवसर पर ही किया जाता था। इस बार घरों और संस्थानों में झंडा फहराने से भारत के सभी लोग व्यक्तिगत रूप से झंडे से जुड़ सकेंगे।

Har Ghar Tiranga Abhiyaan Essay – 600 Words

प्रस्तावना –
किसी भी देश का राष्ट्रीय ध्वज उस देश के लिए सम्मान और गौरव का विषय होता है। इस बार हमारे भारत की आजादी का जश्न खास होगा।

आजादी के 75 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में हर घर में तिरंगा अभियान चलाया जा रहा है| इसके तहत जनभागीदारी से देश के 25 करोड़ से अधिक घरों में तिरंगा फहराया जाएगा. तिरंगा हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण और गर्व की बात है।

हर घर तिरंगा अभियान –
15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पूरे देश में तैयारियां की गई हैं| इस बार यह बेहद खास होगा क्योंकि इस बार देश अपनी 75वीं स्वतंत्रता वर्षगांठ मना रहा है। भारत सरकार आजादी के 75 साल को “आजादी अमृत महोत्सव” के रूप में मनाने जा रही है।

यह दिन उन वीरों की गाथाओं और बलिदानों का प्रतीक है जिन्होंने हमें अपने जीवन की कीमत पर आजादी दी| कई बाधाओं को पार करने के बाद आज राष्ट्रीय ध्वज का तिरंगा भारत का गौरव है। राष्ट्रीय ध्वज का अपमान देश का अपमान है।

“हर घर तिरंगा” अभियान को सफल बनाने के लिए हमें राष्ट्रीय ध्वज से संबंधित सभी निर्देशों का कड़ाई से पालन करना चाहिए। इसमें राज्य के प्रत्येक नागरिक को सद्भाव से भाग लेना चाहिए। तिरंगा हमारा गौरव है|

भारतीय राष्ट्रीय ध्वज पूरे राष्ट्र के लिए राष्ट्रीय गौरव का प्रतीक है। आजादी का अमृत महोत्सव के तहत सभी प्रयासों की देखरेख करने वाले माननीय गृह मंत्री ने हमारे ध्वज को और सम्मानित करने के लिए “हर घर तिरंगा” कार्यक्रम को मंजूरी दी है।

तिरंगा लगाने के नए नियम –
भारत सरकार ने नए नियम निकाल कर यह साफ कर दिया की अब घर पर हमेशा झंडा लगा सकते हैं, पहले सूर्यास्त के बाद झंडा लगाना क़ानूनी अपराध था|

लेकिन इसके अलावा अभी भी कुछ ऐसे नियम हैं जोम पहले से चले आ रहे हैं जिनके बारे में जानना आवश्यक है। जैसे झंडे पर कुछ भी लिखना गैर कानूनी है। किसी भी कार, विमान या जहाज के पीछे अपनी मर्जी से तिरंगा नहीं लगाया जा सकता।

इसका उपयोग किसी भी सामान, भवन आदि को ढकने के लिए नहीं किया जा सकता है।पुराने दिशा-निर्देशों के अनुसार तिरंगा जमीन को नहीं छूना चाहिए। इसके अलावा तिरंगे यानि राष्ट्रीय ध्वज से ऊंचा कोई दूसरा झंडा नहीं रखा जा सकता है।

किसी भी तरह की सजावट के लिए तिरंगे का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है। तिरंगे का निर्माण हमेशा आयातक रहेगा। जिसका अनुपात 3:2 तय है। साथ ही सफेद पट्टी के बीच में स्थित अशोक चक्र में 24 रेखाएं होनी चाहिए। इस बात का हमेशा ध्यान रखें

हर घर तिरंगा अभियान का उद्देश्य –
हर घर तिरंगा अभियान का मुख्य उद्देश्य अधिक से अधिक प्रत्येक भारतीय को अपने घरों में तिरंगा फहराने के लिए प्रोत्साहित करना है। हर घर तिरंगा अभिमान इस साल स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य मे शुरू किया गया है।

यह अभियान नागरिकों के मन में देशभक्ति की भावना पैदा करेगा और राष्ट्रीय ध्वज के बारे में जन जागरूकता भी पैदा करेगा। यह हर जगह भारतीयों को अपने घरों में राष्ट्रीय ध्वज फहराने के लिए प्रेरित करता है।

ध्वज के साथ हमारा सबंध हमेशा व्यक्तिगत से अधिक औपचारिक और संस्थागत रहा है।

निष्कर्ष
हमारे लिए तिरंगा बेहद महत्वपूर्ण और गौरव का विषय है ।इस बार यह बेहद खास होगा, क्योकि देश इस बार आजादी की 75वीं वर्षगांठ मनाने जा रहा है। भारत सरकार आजादी के 75 वर्ष के अवसर पर इसे ‘ आजादी का अमृत महोत्सव’ के रूप मे मनाने जा रही है ।

15 अगस्त का दिन उन वीरो की गाथा तथा बलिदान का प्रतीक है जिन्होने अपनी जान की परवाह नहीं करते हुए हमें आजादी दिलाई थी। हमारा लक्ष्य हो कि हर घर तिरंगा अभियान के तहत पूरे भारत देश में राष्ट्रध्वज फहराया जाए।

सभी आवासों, सरकारी और गैर सरकारी कार्यालयों और वाणिज्यिक औद्योगिक इकाइयों अन्य प्रतिष्ठानों कार्यालयों पर ध्वजारोहण हो।

Best 50 Har Ghar Tiranga Slogans Wishes Quotes Status In Hindi 2022

Best 31 Har Ghar Tiranga Images In Hindi 2022-हर घर तिरंगा फोटो वॉलपेपर

Best Essay On Independence Day In Hindi 2022-स्वतंत्रता दिवस पर निबंध

FAQ

1 स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में भारत सरकार द्वारा कौन सा त्योहार मनाया जाता है?
भारत सरकार आजादी के 75 साल को “आजादी अमृत महोत्सव” के रूप में मनाने जा रही है।

2 हर घर तिरंगा अभियान की वेबसाइट का क्या नाम हैं?
इसकी Website का नाम Harghartiranga.com हैं|

3 राष्ट्रीय ध्वज का उपयुक्त आकार और अनुपात क्या है?
भारत के ध्वज संहिता के पैराग्राफ 1.3 और 1.4 के अनुसार, राष्ट्रीय ध्वज आकार में आयताकार होगा। झंडा किसी भी आकार का हो सकता है लेकिन राष्ट्रीय ध्वज की लंबाई और ऊंचाई (चौड़ाई) का अनुपात 3:2 होगा।

Leave a Comment